मोदीनगर में सामुदायिक विचार-विमर्श कार्यक्रम का आयोजन

आरआरटीएस जैसी बड़े पैमाने पर बनने वाली सार्वजनिक परिवहन परियोजना के सुचारू निष्पादन के लिए निरंतर सामुदायिक सहभागिता महत्वपूर्ण है। इस प्रयास में, हाल ही में एनसीआरटीसी द्वारा मोदीनगर में एक और सामुदायिक विचार-विमर्श कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में स्थानीय निवासियों, फेरीवालों, श्रमिकों और दुकानदारों सहित आस-पास के क्षेत्रों से सभी हितधारकों ने सक्रिय रूप से भाग लिया।

इस सत्र के दौरान, एनसीआरटीसी के अधिकारियों ने स्थानीय नागरिकों को आरआरटीएस परियोजना के विभिन्न आयामों, दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरीडोर की निर्माण योजना, विभिन्न सुरक्षा उपायों और निर्माण के दौरान जनता को होने वाली किसी भी असुविधा को कम करने के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में बताया गया।

कार्यक्रम में शामिल लोग न केवल एनसीआरटीसी के अधिकारियों के साथ पूरी तरह से चर्चा में लगे हुए थे बल्कि परियोजना से संबंधित बहुमूल्य सुझाव भी दिए। परियोजना के विभिन्न सामाजिक-आर्थिक लाभों को देखते हुये लोग इस यात्री-केंद्रित परियोजना के कार्यान्वयन के लिए न केवल उत्साहित थे बल्कि उन्होने इसके लिए एनसीआरटीसी को अपना पूरा समर्थन भी दिया।